दो दिन से गमगीन रहा अटल जी की बुआ का गांव, इस तरह जताया लोगों ने दुख

 

दो दिन से गमगीन रहा अटल जी की बुआ का गांव, इस तरह जताया लोगों ने दुख

 

दो दिन से गमगीन रहा अटल जी की बुआ का गांव, इस तरह जताया लोगों ने दुख

 

   

  •  

     

     

 

     
  •  
  •  

 

     
    दो दिन से गमगीन रहा अटल जी की बुआ का गांव, इस तरह जताया लोगों ने दुख
     
     
     
     
     
     
    kanpur drowned in atal bihari vajpayee condolence कानपुर। विराट प्रतिभा के धनी भारत रत्न से सम्मानित आम स्वभाव से हर भारतीय के दिल में राज करने वाले प्रखर विद्वान साहित्यरत्न पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन से हर भारतीय आहत है। देश अपनी अश्रुपूर्ण श्रद्धांजलि देकर अपनी संवेदनाएं व्यक्त कर रहा है। अटल जी की बुआ के गांव में भी लोग भावुक है। अटल बिहारी वाजपेयी अपनी बुआ के घर कानपुर के गांव गहलो में अंतिम बार 1995 में आये थे। इस दौरान करीब डेढ़ घण्टे तक अटल जी अपनी बुआ के साथ रहे। बता दें कि अटल जी अपनी बुआ से बहुत प्यार करते थे। अटल जी की बुआ उन्हें प्यार से अटलू कहकर बुलाया करती थी और अटल जी भी अपनी बुआ को प्यार से लालू नाम से बुलाया करते थे।